Search Menu

जयपुर में सीकेएस और मणिपाल अस्पताल 2800 का रेमडेसिविर 5400 रुपए में बेचते पकड़े गए

संख्या बढ़ेगी, तो सरकार चाहते हुए भी कुछ नहीं कर पाएगी, संख्या रोकने का काम पब्लिक का है, बचने का इलाज भी आपके पास ही है: CM गहलोत

बंगाल में ‘शेरनी’ की सुनामी के आगे मोदी-शाह की ‘चाणक्य नीति’ धराशायी, फिर TMC की सरकार

Dark Light

चिकित्सा मंत्री डॉ रघु शर्मा के निर्देश पर अस्पतालों में दवाओं की कालाबाजारी रोकने व निर्धारित मूल्य से अधिक वसूली को जांचने के लिए बनाई टीम ने शनिवार को जयपुर के दो अस्पतालों का निरीक्षण किया।

औषधि नियंत्रक राजाराम शर्मा के निर्देशन में टीम ने जयपुर के वीकेआई स्थित सीकेएस हॉस्पिटल और विद्याधर नगर स्थित मणिपाल अस्पताल का निरीक्षण कर जांच की। जिसमे दोनों अस्पतालों मे रेमडेसिविर इंजेक्शन को सरकारी रेट 2800 रुपए के मुकाबले 5400 रुपए में विक्रय करना पाया गया। दोनों अस्पतालों में विक्रय बिल नियमानुसार संधारित नहीं पाए गए। राजाराम शर्मा ने बताया कि मणिपाल अस्पताल में फार्मासिस्ट की अनुपस्थिति में सेड्यूल H और H1 की औषधियों का बेचान करना पाया गया।दो

दोनों स्पतालों को राज्य सरकार द्वारा रेमडेसीविर इंजेक्शन की निर्धारित दर पता होने के बावजूद मरीजों से अधिक वसूली करना भी पाया गया। अस्पतालों के विरुद्ध नियमानुसार कार्रवाई के लिए उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट पेश कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *